Sale!

Azamdeal Malegaon famous Mansoori Joshanda/Kadha

120.00 80.00

The most famous Malegaon Kada which help in boosting immunity. This is effective against viral infection causing cold, fever, throat and lungs infections.

    • Order Gets Delivered within 5 Days Across India
    • You will receive courier details by text message after your order gets dispatched

 

Add to Wishlist
Add to Wishlist
SKU: B08DK99XJH Category:

Description

मालेगाव मंसूरी जोशांदे (काढ़े) के फ़ायदे से आजकल हर कोई वाकिफ है। (REF.NO.MTC/547/2020, DT: 25/06/2020) सारे हिंदुस्तान में इसकी मांग बहुत ज्यादा बढ़ गई है। जो लोग इसके फायदे देख रहे हैं वह दूसरे लोगों को इसे खरीदने का कह रहे हैं। ऐसे में जड़ी बूटियों की कमी होना जाहिर है। इसलिए बहुत सारे लोग / कंपनियां आसानी से मिलने वाली जड़ी बूटियां या आम मसालों का पाउडर बनाकर मालेगाव काढ़े के नाम से बेच रही है। इसलिए खरीदारों से खास दरखास्त है कि मालेगाव काढ़े के नाम से ऐसी कोई भी चीज ना खरीदें जिसमें आपको साफ भरोसा ना आए। अगर जड़ीबुटी का पाउडर बना हो तो बेचने वाले से उसी कीमत पर उतना ही वजन बिना पीसी हुई जड़ी बूटियां मांगें।

Certificate of Authentication for Contents of Malegaon Kadha:

मालेगाव काढ़े की पहचान:
मालेगाव काढ़े में 9 जड़ी बूटियां होती हैं।
उन्नाब: बेर जैसे दिखते हैं, पर इसका बीज बहोत बारीक (काले अंगूर के बीज जितना) होता है।
गौज़बां: छोटे-छोटे पत्ते होते हैं, इस पर कांटे होते हैं जो चुभते हैं।
मुलेठी: लकड़ी की तरह दिखती है इसका मजा मीठा होता है।
इस्तोखद्दुस: तंबाकू की तरह होते हैं इसमें बारीक बारीक फूल होते हैं।
सपिस्तान: नीम की निंबोली की तरह दिखते हैं लेकिन छोटे छोटे होते हैं इसकी तीन किनार होती हैं।
अडूसा: बारीक बारीक पत्ते सूखे हुए होते हैं।
ख़त्मि: तरबूज के बीज की तरह छोटे-छोटे हल्के वजन के काले बीज होते हैं।
ख़ूबाज़ी: हल्के वजन के छोटे छोटे गोल फूल होते हैं।
खाक्सी: बारीक बारीक राई जैसे बीज होते हैं लेकिन राई से थोडे बारीक होते हैं।
‘आज़मडील’ की तरफ से मिलरहा मालेगाव काढ़े का पैकेट सिर्फ जड़ी बूटियों का पैकेट है जो, ना पीसी गई हैं ना, इस पर कोई प्रोसेस किया गया है। और यह Amazon पर ऑनलाइन भी दस्तयाब है।

 

मालेगांव काढ़ा – अच्छे रिज़ल्ट के लिए: 1) आधा लीटर पानी में एक पैकेट काढ़े को डालकर पानी आधा होने तक, धीमी आंच पर उबालें (लगभग 60 मिनट)। 2) इसे सुबह-शाम करके चार बार (चाय जैसा गरम करके) पीना है। Note: काढ़े को उबालने से 2 घंटे पहले पानी में डालकर रख दें। किसी भी जानकारी के लिए आप +91 9922997390 पर Call या WhatsApp से संपर्क कर सकते हैं। या info@azamdeal.com पर ईमेल कर सकते हैं।

 

 

Malegaon Nuskha Malegaon ka nuskha Malegaon ka kadha Malegaon ka Joshanda Malegaon kadha Malegaon pattern

Additional information

Weight 108 g