Sale!

Gulab Patti/Dry Rose Petal (80 gm)

240.00 180.00

  • Original rose petal
  • Dried in sunlight – without chemicals
  • Best quality

  • Order Gets Delivered within 5 Days Across India
  • You will receive courier details by text message after your order gets dispatched
Add to Wishlist
Add to Wishlist
SKU: B08QDPY41V Category: Tag:

Description

गुलाब पत्ती सेवन करने के फायदे:

1. गुलाब में विटामिन-सी और एंटीऑक्सीडेंट होता है। गुलाब की पंखुड़ियां से बने गुलकंद खाने से हड्डियां मजबूत होती है।
2. गुलाब खाने से टीवी के मरीज को राहत मिलती है।
3. गुलाब की पत्ती को पीसकर गिलसरीन के साथ मिलाकर रख लें। इसे रोज होंठों पर लगाने से सॉफ्ट और गुलाबी होते है।
4. गुलकंद शरीर को ठंडा रखता है। इसे खाने से पानी की कमी पूरी, थकान और पाचन से जुड़ी समस्या दूर होती है।
5. गुलाब रखकर सोने से तनाव दूर और नींद अच्छी आती है। 6. आंख में गुजली या दर्द होने पर गुलाबजल डालने से आराम मिलता है।

गुलाब पत्ती इस्तेमाल का तरीका:

1-अगर आपको पायरिया की समस्या है तो आप गुलाब की पंखुडि़यों को चबाकर खाएं।
2- मुंह में छाले होने पर गुलाब के फूल को पानी में उबालकर उसका काढ़ा बनाएं। फिर उस पानी की मदद से गरारे करें।
3-मासिक धर्म के दौरान जिन महिलाओं को अत्यधिक रक्तस्त्राव होता है, उन्हें इसका सेवन करना चाहिए। इसके लिए आप मासिक धर्म शुरू होने से करीबन 20 दिन पहले गुलाब की मदद से बना गुलकंद खाएं।
4-गुलाब से बने गुलकंद को जोड़ों के दर्द से परेशान लोग रोज सेवन करें तो राहत मिलती है और जल्द ही बिमारी दूर हो जाती है.

गुलाब का वानास्पतिक नाम Rosa centifolia Linn.(रोजा सेन्टिफोलिया) Syn-Rosa gallica var. Centifolia Regel होता है। गुलाब का नाम सुनते ही होंठो पर एक हल्की मुस्कान आ जाती है। गुलाब एक ऐसा फूल है जिसका पौधा कंटीला होने के बावजूद फूल इतना मनमोहक होता है कि सबका दिल महक और सुंदरता से मोह लेता है। इसके मुग्ध रूप के अलावा औषधीय गुण भी अनगिनत हैं। आयुर्वेद में गुलाब और गुलाब पत्ती का इस्तेमाल कई बीमारियों के लिए इलाज के रूप में प्रयोग किया जाता है। चलिये इसके बारे में आगे विस्तार से जानते हैं।

Additional information

Weight 80 g