Sale!

Azamdeal Safed Musli (50 gm)

125.00

  • Safed musli from Satpuda Mountains region.
  • 100% Original and Pure.
  • Provides relief in joint pain and arthritis. You can gift to old age people

SKU: B08P568Q8G Category: Tag:

Description

एक ऐसी ताक़तवर जड़ी-बूटी है जिसका खास इस्तेमाल गठिया, डायबिटीज, यूटीआई आदि बीमारियों को दूर करने के किया जाता है। साथ ही ये कमज़ोरी मिटने के लिए और जोड़ों का दर्द मिटाने के लिए भी फायेदेमंद है। सफेद मूसली का उपयोग आयुर्वेदिक, यूनानी और होम्योपैथी दवाओं में प्रमुखता से किया जाता है। सफेद मूसली (safed musli in hindi) आमतौर पर बरसात के मौसमों में जंगलों में अपने आप उगती है। सतपुड़ा के पहाड़ों में उगी सफेद मुस्ली बिना chemicals की और देसी होती है।

सफेद मूसली में पाए जाने वाले पोषक तत्व :

. आयुर्वेद के अनुसार सफेद मूसली (safed musli) की जड़ें सबसे ज्यादा गुणकारी होती हैं। ये जड़ें विटामिन और खनिजों का खज़ाना हैं। इन जड़ों में कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, फाइबर, सैपोनिंस जैसे पोषक तत्व और कैल्शियम, पोटैशियम, मैग्नीशियम आदि खनिज प्रमुखता से पाए जाते हैं।

सफेद मूसली के औषधीय गुण :

. सफेद मूसली की गांठ वाली जड़ें और बीजों का इस्तेमाल औषधि के रुप में सबसे ज्यादा किया जाता है। आमतौर पर सफेद मूसली का उपयोग सेक्स संबंधी समस्याओं के लिए अधिक होता है लेकिन इसके अलावा सफेद मूसली का इस्तेमाल आर्थराइटिस, कैंसर, मधुमेह (डायबिटीज),नपुंसकता आदि रोगों के इलाज में और शारीरिक कमजोरी दूर करने में भी प्रमुखता से किया जाता है। कमजोरी दूर करने की यह सबसे प्रचलित आयुर्वेदिक औषधि है। जानवरों पर किये एक शोध में इस बात की पुष्टि हुई है कि इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं साथ ही यह सेक्स संबंधी गतिविधि को बढ़ाती है और टेस्टोस्टेरोन जैसे प्रभाव वाले सेक्स हार्मोन का स्तर बढ़ाती है।

क्या सफेद मूसली में मिलावट होती है?:

जी हाँ। सफ़ेद मुस्ली में लैबोरेट्रीज (Laboratories) में बनायी गयी duplicate सफ़ेद मुस्ली मिलायी जाती है। इस को पहचानने के लिए मुस्ली के sample को पानी में भिगो कर रखा जाता है। अगर दो घंटे के बाद ये पानी में अपने आप घुल जाती है तो ये duplicate सफ़ेद मुस्ली है। अगर ये दो घंटे के बाद पानी में अपने आप नहीं घुलती है तोो ये असली सफ़ेद मुस्ली है। AZAMDEAL की सफ़ेद मुस्ली 100% असली होती है।

सफेद मूसली खाने की विधि (how to take safed musli) :

ये बहुत ही आसान है:
1) AZAMDEAL से मिले सफ़ेद मुस्ली के पैकेट को मिक्सर में पीसलें।
2) रोज़ाना रात में सोने से पहले 1 चाय का चमचा (2-3 ग्राम) गरम दूध मे मिला कर पियें।
3) अधिक जानकारी के लिए आप हमारे कस्टमर केयर पर कॉल कर सकते हैं।

इसे लड्डू बनाने के लिए या पंजेरी बनाने के लिए भी उपयोग कर सकते हैं।

Additional information

Weight 100 g